विटामिन के बारे में पूरी जानकारी- फ्री पीडीएफ डाउनलोड करें

4
88632
Vitamins PDF Notes

विटामिन्स चार्ट:- नमस्कार दोस्तों, इस पोस्ट में, हम एक महत्वपूर्ण पीडीएफ Vitamins PDF Notes or All Vitamin Chart in Hindi PDF साझा करने जा रहे हैं, जो प्रत्येक प्रतियोगी परीक्षा के लिए बहुत उपयोगी है। We share विटामिन चार्ट इन हिंदी, विटामिन के रासायनिक नाम, विटामिन चार्ट, विटामिन के की कमी से होने वाले रोग.

आप सभी जानते है की आजकल जो परिक्षाये आयोजित हुई है उनमे कम से कम एक प्रश्न सीधे सीधे विटामिन के बारे में पूरी जानकारी PDF, Vitamins Chart PDF in Hindi पर पूछा जा रहा है इसलिए यह महत्वपूर्ण हो जाता है की आप Vitamins Chart, Chart of Vitamins के पुरे टोपिक को अच्छे से कवर कर ले ताकि कोई भी घुमा फिरा के प्रश्न पूछा जाये तो आप आसानी से उसका जवाब देने में सक्षम हो. अब हम Vitamins Chart PDF, विटामिन K के स्रोत, विटामिन की परिभाषा, विटामिन के प्रकार, विटामिन E के स्रोत, विटामिन के नाम से सम्बन्धित सम्पूर्ण जानकारी को निचे दिए गये बिन्दुओ के माध्यम से पढ़ते है.

Vitamin Chart in Hindi PDF

In this post we comes with Vitamins in Hindi Chart, Vitamin Chart in Hindi for all competitive exams.

विटामिन क्या होता हैं :- विटामिन वे पोषक तत्व होते हैं जो हमारी अनेक बीमारियों से रक्षा करते हैं। विटामिन रसायनिक कार्बनिक यौगिक होते हैं जिनका निर्माण हमारा शरीर खुद नहीं करता बल्कि हमें भोजन के द्वारा लेना पड़ता है। विटामिन हमारे शरीर के स्वास्थ्य के लिए बहुत आवश्यक होते है।

विटामिन दो प्रकार के होते हैं वसा में घुलनशील विटामिन और जल में घुलनशील विटामिन

No.-1. वसा में घुलनशील विटामिन वे होते है जो हमारे शरीर की वसा कोशिकाओं में जमा होते हैं। जो कि हमारे शरीर में कई महीनों तक रहते हैं ।

No.-2. जल में घुलनशील विटामिन वे विटामिन होते हैं विटामिन हमारे शरीर में जमा नहीं हो पाते हैं, जिनको हमें अपने दैनिक जीवन में रोज लेना होता है, क्योंकि यह हमारे शरीर में हमारी भोजन की जरूरतों को पूरा कर लेने के बाद हमारे शरीर में जो अपशिष्ट पदार्थ बचता है उसको मूत्र के द्वारा बाहर निकाल देता है।

No.-1. विटामिन की खोज- ल्युनिन (1881) & होपकिंस (1912)

No.-2. विटामिन का नाम दिया-फन्क

No.-3. विटामिन का अध्ययन विटामियोलॉजी कहलाता है|

No.-4. विटामिन लघु पोषक तत्व, जैविक नियंत्रक और उपाध्यक्ष नियंत्रक होते हैं|

No.-5. विटामिन स्वास्थ्य नियंत्रक है लेकिन शरीर का निर्माण नहीं करते हैं|

No.-6. सर्वप्रथम ज्ञात बिटामि-न विटामिन सी

No.-7. सर्वप्रथम आसवित अथवा निष्कर्षण बिटामिन-विटामिन बी

Sources of Vitamins

The human body is so designed that it takes what it needs from the food we eat and then it passes out waste as excreta.

These organic substances are abundantly found in both plants and animals source and play a vital role in both growth and development and optimal health.

No.-1. Vitamin A Sources: Found in potato, carrots, pumpkins, spinach, beef and eggs.

No.-2. Vitamin D Sources: Found in fortified milk and other dairy products.

No.-3. Vitamin E Sources: Found in fortified cereals, leafy green vegetables, seeds, and nuts.

No.-4. Vitamin K Sources: Found in dark green leafy vegetables and in turnip or beet green.

No.-5. Vitamin B1 Sources or Thiamin: Found in pork chops, ham, enriched grains and seeds.

No.-6. Vitamin B2 Sources or Riboflavin: Found in whole grains, enriched grains and dairy products.

No.-7. Vitamin B3 Sources or Niacin: Found in mushrooms, fish, poultry, and whole grains.

No.-8. Vitamin B5 Sources or Pantothenic Acid: Found in chicken, broccoli, legumes and whole grains.

No.-9. Vitamin B6 Sources or Pyridoxine: Found in fortified cereals and soy products.

No.-10. Vitamin B7 Sources or Biotin: Found in many fruits like fruits and meats.

No.-11. Vitamin B9 Sources or Folic Acid: Found in leafy vegetables.

No.-12. Vitamin B12 Sources: Found in fish, poultry, meat and dairy products.

No.-13. Vitamin C Sources: Found in citrus fruits and juices, such as oranges and grapefruits.

Vitamin Chart in Hindi PDF / विटामिन के प्रकार PDF

विटामिन तालिका PDF, विटामिन की परिभाषा, विटामिन के के स्रोत, विटामिन B, विटामिन A के स्रोत, पानी में घुलने वाले विटामिन, विटामिन के रासायनिक नाम, विटामिन का महत्व

विटामिन A

No.-1. विटामिन A का रासायनिक नाम रेटिनाँल है।

No.-2. विटामिन A को Antixerophthalmic विटामिन भी कहते हैं।

No.-3. विटामिन A की कमी से हमारे शरीर में रतौंधी( Night bilndness) और जीरोप्थैलमिया नामक रोग हो जाते हैं।

No.-4. विटामिन A हमे संक्रमण से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है।

No.-5. विटामिन A हमारी आंखों के लिए बहुत ही उपयोगी विटामिन होता है।

No.-6. विटामिन A के अभाव में शरीर का विकास बेहतर ढ़ग से नहीं हो पाता है। जैसे कि लंबाई कम होना ।

No.-7. विटामिन A के स्रोत हैं दूध, अंडा, पनीर, हरी सब्जी, के तेल मे पूर्ण रूप से पाया जाता है।

No.-8. खोजकर्ता-मैकुलम

No.-9. पीले और लाल कैरोटिनाइड रंजक द्वारा यकृत द्वारा निर्मित किया जाता है|

No.-10. इसे एंटी इंफेक्शन विटामिन तथा एंटी कैंसर विटामिन भी कहते हैं|

No.-11. विटामिन A को रोग प्रतिरोधक विटामिन भी कहते हैं

No.-12. दृष्टि के लिए यह आंखों में रोडिप्सन का निर्माण करता है |

विटामिन के प्रमुख कार्य, प्रभाव, स्रोत और कमी से होने वाले रोग

We share विटामिन तालिका, विटामिन डी का रासायनिक नाम, विटामिन के नाम, विटामिन के खोजकर्ता Details in Hindi and English for all competitive Exams. We share विटामिन तालिका, Vitamins Chart in Hindi.

विटामिन B

1.विटामिन B के अनेक रूप होते हैं। विटामिन जल में घुलनशील विटामिन होता है। विटामिन B के अनेक रूप होने के कारण इसको विटामिन B कांपलेक्स भी कहा जाता है। इसके बारे में विस्तार से जानते है ।

विटामिन B1

No.-1. विटामिन B1 रासायनिक नाम थायमिन है।

No.-2. विटामिन B1 की कमी से शरीर में बेरी- बेरी नामक रोग होता है।

No.-3. विटामिन B1 मस्तिष्क के विकास के लिए आवश्यक है।

No.-4. विटामिन B1 के स्त्रोत है- मूंगफली, तिल ,सूखा मिर्च ,बिना धुली दाल, यकृत, अंडा, आदि।

विटामिन- A

No.-1. विटामिन ए दो फार्म में पाए जाते हैं, रेटिनॉल और कैरोटीन।

No.-2. विटामिन ए आंखों के लिए बहुत जरूरी होता है।

No.-3. यह विटामिन शरीर में अनेक अंगों जैसे त्वचा,बाल, नाखून, ग्रंथि, दांत, मसूड़ा और हड्डी को सामान्य रूप में बनाए रखने में मदद करता है।

No.-4. विटामिन ए की कमी से ज्यादातर आंखों की बीमारियां होती हैं, जैसे रतौंधी, आंख के सफेद हिस्से में धब्बे।

No.-5. यह रक्त में कैल्शियम का स्तर बनाए रखने में भी मदद करती है और हड्डियों को मजबूत करती है।

No.-6. स्रोत:- शरीर में विटामिन ए की कमी न होने के लिए चुकंदर, गाजर, पनीर, दूध, टमाटर, हरी सब्जियां, पीले रंग के फल खाने चाहिए.

विटामिन चार्ट इन हिंदी

In this post we share विटामिन B2 का रासायनिक नाम, विटामिन b11 का रासायनिक नाम, विटामिन B5 का रासायनिक नाम. We comes with All Vitamin Chart in Hindi for Exams.

विटामिन- B

No.-1. विटमिन बी हमारी कोशिकाओं में पाए जाने वाले जीन, डीएनए को बनाने और उनकी मरम्मत में सहायता करता है।

No.-. इसके कई काम्पलेक्स होते हैं, बी1, बी2, बी3, बी5, बी6, बी7 और बी12।

No.-3. यह बुद्धि, रीढ़ की हड्डी और नसों के कुछ तत्वों को बनाने में मदद करता है।

No.-4. लाल रक्त कणिकाओं का निर्माण भी इसी से होता है।

No.-5. इसकी कमी से बेरी बेरी, त्वचा की बीमारियां, एनीमिया, मंदबुद्धि जैसी कई खतरनाक बीमारियां हो सकती हैं। इसका आनुवंशिक कारण भी हो सकता है।

No.-6. आंतों एवं वजन घटाने की सर्जरी कराना भी इसके लिए जिम्मेदार हो सकता है।

No.-7. शाकाहारी लोगों में इसकी कमी आम बात हो जाती है क्योंकि यह विटामिन ज्यादातर जानवरों में पाया जाता है।

No.-8. स्रोत:- विटामिन बी ज्यादातर मांसाहारी पदार्थों जैसे मछली, मीट, अंडा आदि में पाया जाता है। शाकाहारी लोग इसकी आपूर्ति दूध और इससे बनने वाले उत्पादों, जमीन के अंदर उगने वाली सब्जियों आलू, गाजर, मूली में आंशिक रूप से पाया जाता है।

Vitamins Chart PDF in Hindi

We share विटामिन से होने वाले रोग ट्रिक, विटामिन K, विटामिन ए, विटामिन E की कमी से होने वाले रोग का नाम, विटामिन चार्ट इन हिंदी in Hindi and English.

विटामिन- C

No.-1. विटामिन सी शरीर की मूलभूत रासायनिक क्रियाओं में यौगिकों का निर्माण और उन्हें सहयोग करता है।

No.-2. तंत्रिकाओं तक संदेश पहुंचाना या कोशिकाओं तक ऊर्जा प्रवाहित करना आदि।

No.-3. विटामिन सी मानव शरीर के सामान्य कामकाज के लिए आवश्यक है।

No.-4. यह एस्कॉर्बिक अम्ल होता है जो कि हर तरह के सिट्रस फल में जैसे, नींबू, संतरा, अमरूद, मौसमी आदि में पाया जाता है।

No.-5. विटामिन सी की कमी से स्कर्वी नामक रोग हो सकता है, जिसमें शरीर में थकान, मासंपेशियों की कमजोरी, जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द, मसूढ़ों से खून आना और टांगों में चकत्ते पड़ने जैसी दिक्कतें हो जाती हैं।

No.-6. विटामिन सी की कमी से शरीर छोटी छोटी बीमारियों से लड़ने की ताकत भी खो देता है, जिसका नतीजा बीमारियों के रूप में सामने आता है।

No.-7. स्रोत:- विटामिन सी खट्टे रसदार फल जैसे आंवला, नारंगी, नींबू, संतरा, बेर, कटहल, पुदीना, अंगूर, टमाटर, अमरूद, सेब, दूध, चुकंदर, चौलाई और पालक विटामिन सी के अच्छे स्रोत हैं। इसके अलावा दालों में भी विटामिन सी पाया जाता है।

विटामिन C- एस्कोर्बिक अम्ल

No.-1. इसे एंटी स्कर्वी या एंटी केंसर, एंटी रेबीज विटामिन भी कहा जाता है|

No.-2. यह सामान्य हृदय धड़कन के लिए विटामिन है

No.-3. यह घाव को शीघ्र भरने के लिए सहायक है|

No.-4. हीमोग्लोबिन निर्माण में सहायक है|

No.-5. संयोजी ऊतक निर्माण में सहायक|

No.-6. यह ऊष्मा और प्रकाश से नष्ट हो जाता है|

कमी द्वारा होने वाले रोग

No.-1. मसूड़ों एवं दांतो से रक्त प्रभावित होने लगता है| (स्कर्वी रोग), नेत्र लेंस अपारदर्शी हो जाता है| Cataract रोग

No.-2. प्राप्त स्त्रोत- आंवला, टमाटर, संतरा, नींबू, अमरूद, आलू, हरी सब्जियों, गूजवेरी, काली मिर्च, पत्ता गोभी इत्यादि|

No.-3. जब कटे हुए फलों को अधिक समय तक रखा जाता है तो विटामिन नष्ट हो जाता है|

No.-4. सर्दी होने पर एस्प्रिन या एंटीबायोटिक का प्रयोग करते समय साथ में विटामिन C का प्रयोग करते हैं जिससे उस दवाओं का असर बढ़ जाता है|

No.-5. एक शराबी व्यक्ति के शरीर में विटामिन C की कमी हो जाती है|

No.-6. दैनिक मांग-40mg

Vitamins Chart

विटामिन- D

No.-1. विटामिन डी का सबसे अच्छा स्त्रोत सूर्य की किरणें हैं।

No.-2. जब हमारे शरीर की खुली त्वचा सूरज की अल्ट्रावायलेट किरणों के संपर्क में आती है तो ये किरणें त्वचा में अवशोषित होकर विटामिन डी का निर्माण करती हैं।

No.-3. अगर सप्ताह में दो बार दस से पंद्रह मिनट तक शरीर की खुली त्वचा पर सूर्य की अल्ट्रा वायलेट किरणें पड़ती हैं तो शरीर की विटामिन डी की पूर्ति हो जाती है।

No.-4. इसकी कमी से हड्डियां कमजोर हो जाती हैं, हाथ और पैर की हड्डियां टेढ़ी भी हो जाती हैं।

No.-5. मोटापा बढ़ने के साथ ही शरीर में विटामिन डी का स्तर कम होता जाता है, जो लोग मोटापे जैसी बीमारी से ग्रस्त है उन्हें विटामिन डी की कमी को पूरा करने के साथ-साथ मोटापे को भी कम करना चाहिए।

No.-6. स्रोत:- सूर्य विटामिन डी का सबसे अच्छा स्त्रोत माना जाता है। इसके अलावा दूध, अंडे, चिकन, सोयाबीन और मछलियों में भी विटामिन डी पाया जाता है।

No.-7. इसे सनशाइन विटामिन या एंटी रिकेट्स विटामिन भी कहते हैं यह पराबैगनी प्रकाश की उपस्थिति में कोलेस्ट्रॉल से त्वचा द्वारा निर्मित होता है|

No.-8. इस समूह में लगभग 10 विटामिन ज्ञात हैं|

No.-9. कोलीकैल्सिफेरॉल नामक D विटामिन का संश्लेषण जंतु स्वयं अपनी त्वचा कोशिकाओं में 7 डीहाईड्रोकोलेस्ट्रॉल नामक पदार्थ से करते हैं|

No.-10. यह हड्डियों और दांतों के लिए आवश्यक है| हड्डियों के निर्माण में तथा कैल्शियम के अवशोषण में सहायक|

विटामिन A की कमी से होने वाले रोग

No.-1. रतौंधी या रात्रि अंधापन- इसे निक्टोपोलिया भी कहते हैं|

No.-2. जीसेपथेलिमिया A2 की कमी से

No.-3. आंसू निर्माण अवरुद्ध हो जाता है|

No.-4. इस रोग में कंजक्शन और कार्निया के किरेटिननाईजेशन के कारण कन्जेक्टिवा और कार्निया शुष्क हो जाते हैं|

No.-5. यह संपूर्ण विश्व में बच्चों में अंधेपन का मुख्य कारण है|

No.-6. इसकी कमी से शिशुओं में वृद्धि रुक जाती है|

No.-7. प्राप्त स्त्रोत- गाजर उत्तम स्त्रोत है, मक्खन, अंडा पीतक, दूध, पपीता, आम, पालक, मछली, यकृत तेल, पत्ता गोभी, टमाटर इत्यादि|

No.-8. लीवर (यकृत) मैं भविष्य के लिए विटामिन ए भंडारित होता है|

No.-9. दैनिक मांग 150* g

विटामिन D कमी से होने वाले रोग-

No.-1. बच्चों में रिकेट्स (सूखा रोग) हड्डियां कमजोर

No.-2. वयस्कों में- ओस्टियोमलेसिया|

No.-3. प्राप्त स्त्रोत- मक्खन, सूर्यप्रकाश, सब्जियां, मांस, लीवर, अंडे, दूध इत्यादि|

No.-4. गर्भ निरोधक दवा द्वारा नष्ट हो जाता है|

No.-5. खोजकर्ता- होपकिंस

No.-6. दैनिक मांग-400 I.U.

विटामिन E- कमी से होने वाला रोग-

No.-1. बाँझपन,गर्भपात,अंगधात (पोलियो) पेशियों का कमजोर होना इत्यादि|

No.-2. प्राप्त स्त्रोत- हरी पत्तियां, तेल,गेहूं,अंडे, मांस,कॉटन बीज तेल

No.-3. दैनिक मांग-30 I.U.

Vitamins Chart PDF

विटामिन E

No.-1. विटामिन ई शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत बनाए रखने, शरीर को एलर्जी से बचाए रखने की, कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रखने में प्रमुख भूमिका निभाता है।

No.-2. विटामिन ई वसा में घुलनशील विटामिन है। यह एक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में भी कार्य करता है।

No.-3. इसके आठ रूप होते हैं। इसकी कमी से जनन शक्ति में कमी आ जाती है।

No.-4. स्रोत:- विटामिन ई अंडे, सूखे, मेवे, बादाम और अखरोट, सूरजमुखी के बीज, हरी पत्तेदार सब्जियां, शकरकंद, सरसों में पासा जाता है। इसके अलावा विटामिन ई वनस्पति तेल, गेंहू, हरे साग, चना, जौ, खजूर, चावल के मांड़ में पाया जाता है।

No.-5. इसे एंटीस्टेरीलिटटी विटामिन या ब्यूटी विटामिन भी कहा जाता है|

No.-6. यह विटामिन त्वचा पर से दाग और झुर्रियां हटाता है|

No.-7. अधिक ऊष्मा से नष्ट हो जाता है|

विटामिन K फाईलोक्विनोंन या फ्लेवीनोक्विनोंन

No.-1. इसे एंटी हीमोरेगिक विटामिन भी कहते हैं|

No.-2. आंत में पाए जाने वाले सहजीवी जीवाणु कॉली द्वारा संश्लेषित होता है |

No.-3. मिनेडिऑन कृतिम विटामिन K सबसे महत्वपूर्ण होता है|

No.-4. प्रोथ्रोम्बिंन के निर्माण के लिए आवश्यक|

कमी से होने वाले रोग

No.-1. रक्त का थक्का नहीं बनता|

No.-2. प्राप्त स्त्रोत- हरी सब्जियां, गाजर, टमाटर, लीवर, गोभी, पालक, धनिया, मूली का ऊपरी सिरा, सोयाबीन इत्यादि|

No.-3. यह एंटीबायोटिक्स और सल्फा औषधियों के लगातार उपयोग से नष्ट हो जाता है|

No.-4. दैनिक मांग-0.001mg

Que.-1.  विटामिन  का खोज किसने किया था ?

ANS.  Casimir Funk।

Que.-2. विटामिन डी3 का रासायनिक नाम क्या है ?

ANS. कोलेकेल्सिफेरोल।

Que.-3. विटामिन ए किस रोग को दूर करने में मदद करता है ?

ANS. जीरॉफ्थैलमिया नामक रोग।

Que.-4. कोबाल्ट किस विटामिन में पाया जाता है?

ANS. विटामिन B 12।

Que.-5. आंखों की रोशनी के लिए कौन सा विटामिन जरुरी होता है?

ANS. विटामिन A।

इस Website पर हम प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए डेली नि: शुल्क अध्ययन सामग्री साझा करते हैं।

यह PDF विभिन्न परीक्षाओं जैसे UPSC, IAS, RAS, UPPSC, MPPSC, BPSC, SSC CGL, CHSL, CPO, रेलवे और राज्य PSC के लिए महत्वपूर्ण है।

Vitamins PDF Notes

  • Topic: Vitamins PDF Notes
  • Language: Hindi
  • Format: PDF
  • Size: 1.29 Mb
  • Credit: Sunil Ji

Download Full PDF Here

Join Our Telegram Channel For PDF Files

TAGS:- All Vitamin Chart in Hindi, विटामिन तालिका, Vitamins Chart in Hindi, Vitamins in Hindi Chart, Vitamin Chart in Hindi, विटामिन्स चार्ट

4 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.