Earth Planet in Hindi

0
176
Earth Planet in Hindi
Earth Planet in Hindi

Earth Planet in Hindi:- Today I am providing About Earth Planet in Hindi GK questions and answers for competitive exams. You can easily get 2-3 marks with the help of Super Earth Planet in Hindi GK Questions and answers for Competitive Exams. This post of Earth Planet GK Questions for Competitive Exams is very very important.

It is observed that in almost all types of competitive exams, questions based on the Earth Planet in Hindi are asked. So in this article, we have compiled important and tough questions on the different sections of the About Earth Planet in Hindi that would be very useful for all types of competitive exams like UPSC, PSC, SSC, CDS and others.

वर्तमान में 8 प्रमुख प्लेटें :

  1. उत्तर अमेरिकी प्लेट – उत्तरी अमेरिकी, पश्चिमी उत्तर अटलांटिक और ग्रीनलैंड
  2. दक्षिण अमेरिकी प्लेट – दक्षिण अमेरिका और पश्चिमी दक्षिण अटलांटिक
  3. अंटार्कटिक प्लेट – अंटार्कटिका और दक्षिणी महासागर
  4. यूरेशियाई प्लेट – पूर्वी उत्तर अटलांटिक, यूरोप और भारत के अलावा एशिया
  5. अफ्रीकी प्लेट – अफ्रीका, पूर्वी दक्षिण अटलांटिक और पश्चिमी हिंद महासागर
  6. भारतीय-ऑस्ट्रेलियाई प्लेट – भारत, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और हिंद महासागर के अधिकांश
  7. नाज्का प्लेट – पूर्वी प्रशांत महासागर से सटे दक्षिण अमेरिका

8. प्रशांत प्लेट – प्रशांत महासागर के सबसे अधिक

Earth Planet in Hindi

Join Our Telegram Channel For PDF Files

No.-1. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) के गुरूत्‍वाकर्षण के कारण किसी भी पर्वत की ऊॅचाई 15000 मीटर से अधिक नहीं हो सकती.

No.-2. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) के स्‍थल का क्षेत्रफल  149 मिलियन वर्ग किमी0 है

No.-3. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) पर हर साल लगभग 1000 टन अंतरिक्ष धुड-कण धरती में दाखिल होते है

No.-4. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) की भूमध्‍यरेखा का व्‍यास लगभग 12754 किमी0 है

No.-5. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) में मुख्‍य तत्‍व लोहा, ऑक्‍सीजन और सिलिकॉन पाये जाते है

No.-6. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) की भूमध्‍यरेखा की परिधि लगभग  40067 किमी0 है

No.-7. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) का सबसे ऊॅचा पर्वत माउंट ऐवरेस्‍ट (8848 मीटर) है

No.-8. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) का अपनी धुरी पर परिक्रमा काल  23 घंटा 56 मिनट 4.09 सेकेण्‍ड है

No.-9. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) का सूर्य के चारों ओर परिक्रमा काल  365 दिन 5 घंटा 48 मिनट 45.51 सेकेण्‍ड है

No.-10. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) के अक्ष का कक्ष की दूरी पर झुकाव  23 डिग्री से 27 डिग्री है

No.-11. पृथ्वी सौरमंडल का एकमात्र ऐसा ग्रह है जिस पर जीवन संभव है।

No.-12. पृथ्वी सूर्य से दुरी में तीसरे स्थान पर हैं।

No.-13. सूर्य का प्रकाश पृथ्वी पर पहुँचने में 8 मिनट 18 सेकेण्ड का समय लेता है जबकि चन्द्रमा का प्रकाश 1 मिनट 25 सेकेण्ड का समय लेता है।

No.-14. पृथ्वी पश्चिम से पूर्व अपने अक्ष पर लगभग 1610 किलोमीटर प्रति घंटा की चाल से 23 घंटे 56 मिनट और 4 सेकेण्ड में एक चक्कर लगती है।

No.-15. पृथ्वी चार जुलाई को सूर्य से लगभग 15.21 करोड़ किलोमीटर की अधिक दुरी पर होती है। पृथ्वी और सूर्य की इस अवस्था को अपसौर कहा जाता है।

About Earth Planet in Hindi

No.-16. पृथ्वी अपने अक्ष पर 231/2० झुकी हुई है जिसकी वजह से यहाँ पर ऋतू परिवर्तन होता है।

No.-17. पृथ्वी से सूर्य की औसत दुरी लगभग 15 करोड़ किलोमीटर है।

No.-18. पृथ्वी के 71% भाग पर जल है और 29% भाग स्थलीय है। जल की अधिक उपस्थिति की वजह से यह अंतरिक्ष से नीली दिखाई देती है इसलिए इसे नीला ग्रह कहा जाता है।

No.-19. पृथ्वी का निर्माण लगभग 4.54 बिलियन साल पहले हुआ था और पृथ्वी को लेकर विज्ञानिको का अनुमान है कि इस गृह पर लगभग 4.1 बिलियन वर्ष पहले  जीवन का अस्तित्व आंरभ हुआ था.

No.-20. 3,959 मील की त्रिज्या के साथ, Earth हमारे सौर मंडल का पांचवा सबसे बड़ा ग्रह है.

No.-21. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) की सूर्य से माध्‍य दूरी लगभग 149407000 किमी0 है

No.-22. वैज्ञानिको द्वारा पृथ्‍वी की कुल उम्र 4.6 अरब वर्ष मानी गयी है

No.-23. पृथ्वी को अंतरिक्ष में, 6 बिलियन किलोमीटर की दूरी से देखने पर एक नीले रंग के तारे जैसे प्रतिक होता है व् आकाश से पृथ्वी का नीला होने का कारण इस गृह पर मौजूद जल है.

No.-24. पृथ्वी को बाहरी अंतरिक्ष से अपने नीले रंग की उपस्थिति के कारण “Blue Planet” के रूप में भी जाना जाता है.

No.-25. पृथ्वी कि सतह पर 70% से अधिक पानी है, लेकिन क्या आप जानते है यह पृथ्वी के द्रव्यमान के 1% से भी कम है.पृथ्वी का द्रव्यमान 5,972,190,000,000,000,000,000,000 किग्रा है.

No.-26.  पृथ्वी का कोर लगभग 85-88% लोहे से बना है और इसकी परत पर लगभग 47% ऑक्सीजन है.

No.-27. पृथ्वी सूर्य की परिक्रमा दीर्घवृत्ताकार पथ पर 29.72 किलोमीटर प्रति सेकेण्ड की चाल से करती है।

No.-28. पृथ्वी सूर्य की एक परिक्रमा करने में 365 दिन, 5 घंटे, 48 मिनट, 46 सेकेण्ड का समय लेती है।

Super Earth Planet in Hindi

No.-29.  Earth सौरमंडल का एकमात्र ग्रह है जिसकी सतह के नीचे टेक्टोनिक प्लेट्स मौजूद हैं. ये प्लेटें पृथ्वी के अंदर मैग्मा के ऊपर तैर रही हैं, जब ये प्लेटें आपस में टकराती हैं, तो पृथ्वी पर कंपन पैदा होती है जिसे आम भाषा में भूकंप कहते है.

No.-30. पृथ्वी एकमात्र ऐसा ग्रह है जिसका नाम ग्रीक या रोमन देवता के नाम पर नहीं रखा गया था. उदाहरण के तोर पर बृहस्पति गृह का नाम रोमन देवताओं के राजा और यूरेनस गृह का नाम आकाश के ग्रीक देवता के नाम पर रखा गया है लेकिन पृथ्वी का नाम अंग्रेजी/ जर्मन से आया है, जिसका अर्थ है “भू”.

No.-31. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) की सतह का सिर्फ 11 प्रतिशत हिस्‍से पर भोजन उत्‍पन्‍न किया जा सकता है

No.-32. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) पर जल का क्षेत्रफल 361 मिलियन वर्ग किमी0 है

No.-33. पृथ्वी को कभी ब्रह्मांड का केंद्र माना जाता था और वैज्ञानिकों का मानना ​​था कि सूर्य और अन्य ग्रह इसके चारों ओर घूमते हैं हालाँकि, वैज्ञानिकों द्वारा पृथ्वी के संदर्ब में निरंतर कि गई खोजो ने इस धारणा को गलत साबित कर दिया.

No.-34. आंतरिक निकेल-आयरन कोर की उपस्थिति के कारण, पृथ्वी के पास एक मजबूत चुंबकीय क्षेत्र है, यह चुंबकीय क्षेत्र पृथ्वी पर भारी सौर हवाओं को बहने से रोकने के लिए जिम्मेदार है.

No.-35. बरमूडा त्रिकोण पर होने वाले हादसों को लेकर विज्ञानिको का मानना है कि ये सभी हादसे पृथ्वी कि मजबूत चुंबकीय शक्ति के कारण होते है.

No.-36. Earth के पास एक मात्र प्राकृतिक उपग्रह है जिसका नाम चंद्रमा है, आपकी जानकारी लिए बता दे  बृहस्पति गृह में कुल 67 चंद्रमा हैं.

Earth Planet in English

No.-37. पृथ्वी के चंद्रमा कि त्रिज्या  1,738 किलोमीटर है जोकि सौर मंडल का पांचवां सबसे बड़ा चंद्रमा है.

No.-38. पृथ्वी पर समुद्रों में आने वाला ज्वार-भाटा,  पृथ्वी और चंद्रमा के बीच गुरुत्वाकर्षण बल के कारण होता है.

No.-39. चंद्रमा जब पृथ्वी के नजदीक होता है तो अपनी गुरुत्वाकर्षण शक्ति के द्वारा पृथ्वी के समुद्रों के जल को अपनी और खींचता है जिस कारण समुंद्र में ज्वार कि स्थिति उत्पन हो जाती है और पृथ्वी का गुरुत्वकर्षण जल को नीचे कि और ढकेलता है और इस प्रकार समुंद्र में भाटा आ जाता है.

No.-40. चंद्रमा का एक ही पक्ष हमेशा पृथ्वी का सामना कर रहा है, जिसका अर्थ है कि चंद्रमा पृथ्वी के साथ समकालिक रोटेशन में है.

No.-41. धरती पर प्रत्‍येक सेकण्‍ड लगभग 100 वार आकाशीय बिजली गिरती है

No.-42. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) की ध्रवीय परिधि लगभग 40000 किमी0 है

No.-43. पृथ्वी के चंद्रमा का आकार पृथ्वी के आकार का लगभग 27% है.

No.-44. पृथ्वी पर तरल रूप में पानी का अस्तित्व पृथ्वी पर मौजूद तापमान अवधि के कारण बना है, जिसमे पानी 100 डिग्री सेल्सियस पर उबलने लगता है और इस प्रकार पृथ्वी का तापमान इसे गैस में परिवर्तित करता है और इसे मनुष्यों, जानवरों और पक्षियों आदि जीवित प्राणियों तक बदलो के माध्यम से पंहुचा देता है.

No.-45. क्या आप जानते है हम सभी सूर्य के चारों ओर 107,182 किलोमीटर प्रति घंटे के औसत वेग से यात्रा कर रहे हैं और हम एक विशाल गति के साथ इसके चारो और घूम रहे हैं.

No.-46. पृथ्वी पर मौजूद महासागरों में से 95% से अधिक महासागर आज भी इंसानो कि पहुंच से दूर है.

Know about Earth Planet in Hindi

No.-47. Earth पर अरबो साल पहले पाई जाने वाली जीवो कि कुल प्रजातियों में से 99% प्रजातियाँ अब विलुप्त हो चुकी हैं.

No.-48. पृथ्वी के घूमने की गति धीरे-धीरे धीमी हो रही है; इसका अर्थ है कि अब से लगभग 140 मिलियन वर्षों में, पृथ्वी पर एक दिन की लंबाई 25 घंटे होगी.

No.-49. पृथ्वी के आंतरिक कोर का तापमान 5400 और 6000 डिग्री सेल्सियस के बीच है, इसका एकमात्र उदाहरण पृथ्वी के आंतरिक कोर से ज्वालामुखी के द्वारा निकलने वाला मेग्मा है.

No.-50.  आपकी जानकारी के लिए बता दे, पृथ्वी के आंतरिक कोर का तापमान सूर्य कि सतह के तापमान से भी अधिक है.

No.-51.  पृथ्वी से जुड़े रोचक तथ्य व् पूरी जानकारी – Earth Facts in Hindi (25 to 50)

No.-52. पृथ्वी चार मुख्य परतों से बनी है, जिनके नाम क्रमश : आंतरिक कोर, बाहरी कोर, मेंटल और क्रस्ट है.

No.-53. पृथ्‍वी ग्रह (Earth Planet) का सम्‍पूर्ण क्षेत्रफल 510 मिलियन वर्ग किमी0 है

No.-54. धरती आकाश गंगा का एक ऐसा ग्रह है जिसमें टैकटोनिक प्‍लेटों की व्‍यवस्‍था है

No.-55. पृथ्वी की सभी चार परतों में सबसे मोटी परत Metal है, जो 2900 किलोमीटर मोटी है व् सबसे पतली परत Crust है जो पृथ्वी कि सतह से औसतन 30 किलोमीटर की गहराई पर है.

No.-56. पृथ्वी सौर मंडल के सबसे अधिक घनत्व वाले ग्रहो में गिना जाता है और इसका औसत घनत्व 5.51 ग्राम प्रति घन सेंटीमीटर है.

No.-57. उत्तरी ध्रुव से दक्षिणी ध्रुव तक Earth का व्यास भूमध्य रेखा के पार इसके व्यास से 43 किमी कम है

No.-58. पृथ्वी 3 जनवरी को सूर्य के 14.70 करोड़ किलोमीटर की निकट दूरी पर होती है। प्रथ्वी और सूर्य की इस अवस्था को उपसौर कहा जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.